18 जनवरी 2011

मोबाइल और हिंदी !

मेरा मोबाइल से इश्क़ काफी पुराना है. पिछले तीन सालों में हमने कोई पाँच मोबाइल  बदले होंगे.जैसे-जैसे नए फ़ीचर आते गए,हम उन्हीं  के साथ  अपना शौक बदलते रहे.यह शौक मुझे काफ़ी  महंगा भी पड़ा है.कई बार कम दामों में उन्हें हटाना पड़ा और यह निहायत फ़िजूलखर्ची कही जा सकती है !फ़िलहाल  जो फ़ोन मैंने धारण किया हुआ है ,उसी के बारे में बात करते हैं.

काफ़ी सर्च और रिसर्च के बाद मैंने दो महीने पहले सैमसंग का गैलेक्सी एस (GT -I9000) पूरे अट्ठाईस हज़ार रुपये में लिया था,पर पूरी संतुष्टि फिर भी नहीं थी.इसका कारण यह था कि ढेर सारे फ़ीचर होने के बावज़ूद इसमें अन्य android फ़ोन की तरह हिंदी अक्षरों की जगह चौकोर गड्ढे  दिखाई देते थे और मेरा मन एकदम से उकता जाता था .नोकिया को हिंदी-समर्थन के रहते भी पसंद इसलिए नहीं किया था कि  उसमें हैंग  होना और ऑन-ऑफ़ होना आम बात हो गयी थी.

हिंदी के बारे में  मेरी कई मित्रों से भी चर्चा हुई थी,पर android के किसी version में इसके समर्थन की कोई खबर नहीं थी. मैं यूँ ही जिज्ञासावश इस फ़ोन को 2 .2 (foroyo ) में अपग्रेड कराने सैमसंग के सेवा-केंद्र में पिछले हफ़्ते  पहुँच गया.बड़ी देर के इंतज़ार  के बाद जब फ़ोन मेरे हाथ लगा तो मैं तब भी इसे सहज रूप से ले रहा था.जैसे ही मैंने मेल पर sign in   किया,सच बताऊँ ,मेरी ख़ुशी संभाले नहीं संभल रही थी.हिंदी बिलकुल साफ़ -साफ़ दिख रही थी. मेरी तो सचमुच लॉटरी  निकल आई थी.मैं इतना खुश तो उस दिन भी नहीं  था,जब इसे लिया था.

मैंने फटाफट अपने साथियों प्रवीण पाण्डेय और प्रवीण त्रिवेदी   को  यह  खुशखबरी  दी .मुझे  तकनीकी की  थोड़ी-बहुत ही समझ है,इस नाते केवल हिंदी पढ़ पाना ही मेरे लिए बड़ी उपलब्धि हो गई हालाँकि हिंदी की-बोर्ड का  इसमें अभाव है.अभी तक इस फ़ोन को अपग्रेड कराने के जो फ़ायदे मैं समझ पाया हूँ वह इस तरह से हैं:

१.केवल कुछ जगहों को छोड़कर हिंदी की आधुनिकतम व स्पष्ट  छाप(प्रिंट) है.
२.voice search   की सुविधा,जिसमें बोलकर आप english लिख सकते हैं. 
३.लिखते समय शब्दों के बीच में insert का विकल्प.
४. pressreader नामक अनुप्रयोग,जिसमें हिंदी  पत्रिका कादम्बिनी व नंदन पूरी की पूरी व साफ़-साफ़ पढ़ी जा सकती हैं.इसमें हिंदी व english के अखब़ार भी शामिल हैं.हालाँकि ज्यादा लाभ लेने के लिए मामूली ख़र्च भी है.english अखब़ार को पढ़कर सुनाने की सुविधा . 
५.ब्लॉग या किसी लेख पर जाने पर copy ,search व share का भी विकल्प.

फिलहाल मेरा गैलेक्सी एस अब मेरा चहेता बन गया है और निकट भविष्य में मैं इसे बदलने भी नहीं जा रहा हूँ.अब मैं अपने ब्लॉग पर आई हुए टीपों को तुरंत पढ़ सकता हूँ,अपने पसंदीदा ब्लॉग, गूगल रीडर  व हिंदी अखबार ,पत्रिकाएं आराम से पढ़ सकता हूँ.वास्तव में अब यह स्मार्ट हो गया है.इसके लिए गूगल व सैमसंग का आभार !

22 टिप्‍पणियां:

  1. आप के मोबाइल प्रेम के बारे में हमे पता है। आपने पहले भी इस बारे में लिखा है।

    चलिए अब आप खुश तो हम खुश। :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. संयोगवश इस बार ट्रेन में एक सहयात्री के पास यह फोन था, पूरा का पूरा चाट डाला उसे। सुना है एण्ड्राइड 2.3 में हिन्दी कीबोर्ड भी आ जायेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ......अच्छा लगा जोकि आप हिन्दी पढ़ सके !
    वैसे एण्ड्राइड फ्रोयो २.२ में हिन्दी समर्थन एण्ड्राइड के स्तर पर उपलब्ध नहीं है.......बल्कि यह सैमसंग की अपनी कार्यकुशलता का प्रतिफल है |



    इसलिए फिर कहूँगा कि बोलिए .....थैंक्स टू सैमसंग !


    @प्रवीण पाण्डेय
    भैये! एण्ड्राइड जिन्जर्बर्ड २.३ में हिन्दी समर्थन की घोषणा तो हो चुकी है ५५ भाषाओं के साथ ....पर असलियत के धरातल पर अभी भी हिन्दी को उसमे कोई समर्थन नहीं उपलब्ध है|

    गूगल के स्तर पर अभी भी २.३ में डिब्बे ही दिख रहें हैं | ये लिंक देखिये...

    http://code.google.com/p/android/issues/detail?id=1618

    http://code.google.com/p/android/issues/detail?id=12981&q=hindi&colspec=ID%20Type%20Status%20Owner%20Summary%20Stars

    उत्तर देंहटाएं
  4. @सोमेश सक्सेना भाई,मोबाइल के प्रति अपनी दीवानगी अभी-भी बरक़रार है.हिंदी को इसमें पाकर मैं बिलकुल लहालोट हो गया हूँ!

    @प्रवीण पाण्डेय उम्मीद है कि आपकी बात सच निकले!वैसे अब android के 3.० vesion (honeycomb ),जो यूरोपीय-बाज़ार में आ चूका है,उसमें शायद ज्यादा सुधार हो !

    उत्तर देंहटाएं
  5. @राजीव thepda बहुत धन्यवाद !

    @प्रवीण त्रिवेदी बहरहाल हम तो इसी हाल में खुश हैं की हमें इसमें पढने भर के लिए अच्छी हिंदी मिल गई है.
    रही बात इस बारे में कि क्रेडिट किसको दिया जाए तो मुझे लगता है,गूगल ने भी अपने स्तर पर कुछ किया होगा.वैसे इसकी जांच के लिए बाज़ार में कम दामों में LG OPTIMUS 2.2 VERSION का उपलब्ध है,यदि उसमें भी हिंदी-समर्थन है,फिर तो श्रेय गूगल को देना पड़ेगा,अन्यथा आपका आकलन सही !

    उत्तर देंहटाएं
  6. उपयोगी जानकारी -अपग्रेडेड मोबाईल मुबारक !

    उत्तर देंहटाएं
  7. सबसे पहले तो आपको बधाई कि फोन हिन्दी सक्षम हो गया। फोन पर हिन्दी के कुछ स्क्रीनशॉट दिखाइये, इसके लिये आप किसी स्क्रीन कैप्चर औजार का प्रयोग कर सकते हैं, जैसे कि यह

    यह बात साफ नहीं है कि हिन्दी का सही दिखना संस्करण २.३ (फ्रोयो) के कारण है या सैमसंग के द्वारा संशोधित फर्मवेयर के कारण। अधिकतर जगह यही पढने में आया है कि फ्रोयो में हिन्दी समर्थन नहीं है। कोई मित्र कन्फर्म करके बताये कि क्या फ्रोयो युक्त अन्य फोनों पर हिन्दी दिखती है या नहीं।

    ऍण्ड्रॉइड डैवलपर्स की साइट पर उपलब्ध विवरण के अनुसार संस्करण २.३ (जिंजरब्रैड) में जो नई भाषायें शामिल की गयी हैं उनमें हिन्दी भी है पर अभी किसी फोन पर यह बात कन्फर्म नहीं हो पायी है।

    एक बात और अगर आपके गैलैक्सी ऍस फोन में फ्रोयो डालने से इसमें हिन्दी सही दिखने लगी है तो सैमसंग गैलैक्सी टैब (सैमसंग की टैबलेट) में भी हिन्दी सही दिखनी चाहिये क्योंकि इसे गैलैक्सी ऍस फोन का ही वृहत्त रुप बताया जा रहा है तथा इसमें भी फ्रोयो है। यह बात भी पता की जानी चाहिये।

    उत्तर देंहटाएं
  8. @ ePandit आपसे पहले बात हुई थी जब मैं मोबाइल 'सर्च' कर रहा था.अंतत मुझे मेरी मंजिल मिल गयी और इस दरम्यान आप जैसे दोस्तों की सलाह काफ़ी काम आई.

    रही बात फोरोयो (२.२)में हिंदी समर्थन की तो वह भ्रान्ति आज ही अचानक टूटी. मैंने कौतूहलवश फोन का डिफॉल्ट फॉण्ट बदला तो फिर से गड्ढे दिखने लगे.इसका मतलब मेरे हिसाब से यह सुधार महज़ सैमसंग की तरफ से ही हुआ है.

    इसमें बड़े आधुनिक प्रिंट में हिंदी दिखती है,पर कहीं-कहीं शीर्षक वग़ैरह छोड़कर.PressReader app. में कादम्बिनी आदि का हूबहू प्रिंट पढ़ सकते हैं .
    आपकी सलाह अनुसार screen capure का इस्तेमाल करके कुछ चित्र भेज दूंगा.

    उत्तर देंहटाएं
  9. जिंजरब्रैड में घोषणा के बावजूद हिन्दी समर्थन न होने बारे दर्ज किये गये बग में एक टिप्पणी से पता चलता है कि "सैमसंग गैलैक्सी ३" में संस्करण २.१ (ऍक्लेयर) में भी हिन्दी समर्थन है यानि यह पूरी तरह से सैमसंग की कृपा है। इस फोन को रुट करने पर पता चला कि /system/fonts डायरैक्ट्री में DroidHindi.ttf नामक फॉण्ट है। इसी तरह एक टिप्पणी कर्ता ने ऍक्लेयर युक्त "सैमसंग गैलैक्सी ५" में भी हिन्दी समर्थन होना बताया है। यानि कि सैमसंग की गैलैक्सी शृंखला के अधिकतर फोनों में हिन्दी समर्थन है।

    उत्तर देंहटाएं
  10. @प्रवीण पाण्डेय,
    संस्करण २.३ (जिंजरब्रैड) में हिन्दी कीबोर्ड नहीं है बल्कि हिन्दी प्रदर्शन समर्थन भी नहीं है। गूगल ने इसमें Locales की सूची में हिन्दी डाल तो रखी है लेकिन सिर्फ नाम ही डाला है, हिन्दी फॉण्ट तक नहीं है, मैनुअली हिन्दी फॉण्ट डालने पर हिन्दी बिखरी हुयी दिखती है अर्थात ओऍस में हिन्दी हेतु CTL (कॉम्प्लैक्स टैक्स्ट लेआउट) इंजन भी नहीं है।

    मुख्य बात हिन्दी प्रदर्शन के समर्थन की है, हिन्दी कीबोर्ड इतनी बड़ी बात नहीं, वह तो थर्ड पार्टी व्यक्ति भी बना सकते हैं। यूरोपीय भाषाओं हेतु कीबोर्ड लोगों द्वारा बनाये भी गये हैं। इसी तरह हिन्दी कीबोर्ड बनाना भी तकनीकी रुप से सम्भव है।

    उत्तर देंहटाएं
  11. सन्तोष जी चूँकि आपने फोन में हिन्दी दिखती है तो हिन्दी टाइप करने हेतु आप टचनागरी नामक ऑनलाइन टूल का प्रयोग कर सकते हैं। नोकिया के टचस्क्रीन फोनों पर ऑपेरा मोबाइल में यह बढ़िया काम करता है। जरा अपने फोन पर ट्राइ करके बतायें कि क्या बात बनती है?

    टूल - http://epandit.shrish.in/tools/touchnagari

    जानकारी - http://epandit.shrish.in/labs/touchnagari

    फोन पर ऑपेरा मोबाइल में खोलने के लिये इस लघु पते का प्रयोग करें।
    http://bit.ly/TouchNagari

    उत्तर देंहटाएं
  12. @ePandit जी हाँ,आपके दिए गए लिंक पर विचरण करने पर gaalaxy s में हिंदी की-बोर्ड के दर्शन होते हैं और उसके माध्यम से लिखा भी जा सकता है.इस फोन में डिफॉल्ट browser chrome का ही है !
    इस की-बोर्ड का प्रयोग दूसरी जगह कैसे कर सकते हैं,कृपया यह भी बताने का कष्ट करना !

    उत्तर देंहटाएं
  13. खुशी हुयी कि यह टूल आपके काम आया। बहुत ज्यादा भले न सही लेकिन इस टूल से थोड़ा बहुत काम चलाया ही जा सकता है जैसे ट्विटर, फेसबुक स्टेट्स अपडेट करना, गूगल सर्च करना, पोस्टों पर टिप्पणी करना आदि।

    दूसरी जगह से आपका क्या मतलब है, क्या ब्राउजर के अलावा फोन में दूसरी जगह? एक बार इस टूल में लिख लेने के बाद टैक्स्ट कॉपी करके फोन में कहीं भी पेस्ट कर सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  14. @ePandit आपके कहे अनुसार काफ़ी मदद मिली है,पर ओपेरा के browser के द्वारा हिंदी समर्थन नहीं मिल रहा है,वैसे ही गड्ढे दिखते हैं !

    उत्तर देंहटाएं
  15. sahibaat.blogspot.com/2011/02/blog-post.html
    Try this to read Hindi on Android devices.

    उत्तर देंहटाएं
  16. @ Kajal Kumar आपकी सलाह सर-माथे पर ,वैसे अब galaxy s में हिंदी पढ़ने के लिए opera की ज़रुरत रह भी नहीं गयी है !

    उत्तर देंहटाएं
  17. मुझे अपने फोन सैमसंग गैलेक्सी एस का जिंजर-ब्रेड खाना बड़ा महंगा पड़
    गया.पिछले अपडेट में सैमसंग ने अपनी ओर से हिंदी-समर्थन किया था,अब वो
    गायब हो गया,फिर से गड्ढे दिखने लगे हैं.जहाँ रोज तकनीक बदल और विकसित हो
    रही है,ऐसे में कंपनी अपना कितना भला कर पायेगी,क्या बताएँ पर मेरा तो
    बंटाधार कर दिया !इस बारे में गूगल या सैमसंग क्या कर सकते हैं,या हम कुछ
    कर सकते हैं तो कृपया बताएँ !

    उत्तर देंहटाएं
  18. लो जी ई पंडित जी तो यहां पर पहले से उपस्थित हैं, मैं तो आपको उन्‍हीं का रास्‍ता दिखलाने वाला था।

    उत्तर देंहटाएं
  19. आपके इश्क का नमूना तो देख लिया हमने पिछली दिल्ली यात्रा में। बड़ा हसीन इश्क है जी। :)

    उत्तर देंहटाएं
  20. अभी कल चौबीस अगस्त को ई पंडित की सलाह पर सैमसंग के सर्विस-सेंटर गया और मेरे गैलेक्सी एस में फिर से जान पड़ गयी.
    दर-असल मेरा जिंजर-ब्रेड अपडेट ddjv6 का था जिसमें हिंदी-समर्थन नहीं था,उसे ddjv9 में अपडेट करवाने पर फिर से हिंदी लहलहा रही है,हालाँकि अभी की-बोर्ड आने में देर है.
    ePandit का आभार !

    उत्तर देंहटाएं